My Cart
close
Your Shopping Cart Is Empty

ज्योतिष शास्त्र क्या है?

ज्योतिष विद्या को वेदों की आखें कहा गया है| यह एक ऐसा विज्ञान है, जिसमे संपूर्ण नक्षत्र, ग्रहो और उनकी गतिविधियों का अवलोकन किया जाता है और प्रकार इन गतिविधियों में आ रहे बदलाव मनुष्य के जीवन पर प्रभाव डालते है| जैसे ही किसी मनुष्य का जन्म इस धरती पर होता है, वह किसी निश्चित समय पर होता है और वही समय उस व्यक्ति का जीवन प्रभावित करती है अर्थात उस समय हुई ग्रहो व नक्षत्रो की गतिविधियां मनुष्य का भाग्य तय करती है साथ ही वह उस मनुष्य का जीवन, व्यक्तित्व, आदतें, व्यवहार, पसंद, ना पसंद व उसका भविष्य भी दर्शाती है|

उद्देश्य

इंस्टिट्यूट ऑफ़ वैदिक एस्ट्रोलॉजी आपको यही ज्ञान प्राप्त करने में सहायता प्रदान करता है, ताकि आप ज्योतिष से जुडी सभी मूल व ख़ास बातों की गहराई जान सके व उन्हें आत्मसात कर सके| | हमारे इंस्टिट्यूट में आप ज्योतिष से जुड़ा ज्ञान बड़े ही आसान व सरल तरह से सीख पाएंगे जहाँ हमने सरल भाषा का प्रयोग कर आपके लिए यह और भी हमारे पत्राचार कोर्स के माध्यम से हमने और भी आसान बना दिया है| इसलिए हम आपको संगठित प्रकार से निर्मित किया गया पाठ्यक्रम, जो आपको शुरुआती ज्ञान से लेकर अग्रिम व उन्नत ज्ञान देने के योग्य है |

about image

कोर्स चयन करे

ज्योतिष शास्त्र के निम्न ४ कोर्स में से चयन करे | यह कोर्स क्रमश प्रारंभिक से माध्यमिक से उच्च ज्ञान प्रदान करते है |

विभिन्न कोर्स टेबल

  डिप्लोमा प्रोफेशनल
डिप्लोमा
प्रोफेशनल
डिप्लोमा
विडियो सहित
२ वर्ष एडवांस
इंटीग्रेटेड एडवांस
प्रोफेशनल डिप्लोमा
विडियो सहित
स्तर प्रारंभिक एडवांस एडवांस प्रैक्टिकल सहित विशेषज्ञ प्रैक्टिकल सहित
पात्रता 10+2 स्नातक या अधिक स्नातक या अधिक स्नातक या अधिक
अवधि ६ माह* १२ माह* १२ माह* २४ माह*
मॉड्यूल १८ १८ ३०
पाठ्यक्रम ७००+ पृष्ठ १६००+ पृष्ठ/span> १६००+ पृष्ठ+विडियो २५००+ पृष्ठ+विडियो
ऑडियो पाठ - हाँ हाँ हाँ
विडियो पाठ - - एक्सपर्ट द्वारा बनाये गए 425+ वीडियो एक्सपर्ट द्वारा बनाये गए 425+ वीडियो
विशेष कोर्स - १ फ्री १ फ्री २ फ्री
ओरिएंटेशन कार्यक्रम - हाँ हाँ हाँ
परीक्षा
सर्टिफिकेट
 
Fees
 
आसन क़िस्त उपलब्ध
 
आसन क़िस्त उपलब्ध
 
आसन क़िस्त उपलब्ध
 
आसन क़िस्त उपलब्ध
kit image
kit image
kit image
kit image
kit image

*Audio books available with Astrology & Vastu Course Only.

*All pictures shown are for for illustration purpose only. Actual product may vary due to product enhancement.

विशेष कोर्स

(प्रोफेशनल डिप्लोमा और इंटीग्रेटेड एडवांस प्रोफेशनल डिप्लोमा कोर्स के साथ ही उपलब्ध)

चिकित्सा
ज्योतिष
ज्योतिष और चिकित्सा। रोग। शरीर के अंगों पर ग्रहों का प्रभाव। कुंडली के आधार पर रोग क्षेत्रों का निदान। स्वास्थ्य उपाय के ज्रयोतिषीय तरीके।
व्यापार
ज्योतिष
ज्योतिष में व्यावसायिक पहलू। नौकरी, काम, पेशा, व्यवसाय, सेवा और उद्योग से संबंधित पहलु।
मुहूर्त शास्त्र (केवल हिंदी माध्यम में उपलब्ध)
पंचांग के आधार पर गणना की गई शुभ मुहूर्त की गणना। विभिन्न महत्वपूर्ण जीवन-पहलुओं के लिए मुहूर्त।
कोई भी १ चुनें। प्रोफेशनल डिप्लोमा कोर्स के साथ 1 विशेषज्ञता मुफ्त। इंटीग्रेटेड एडवांस प्रोफेशनल डिप्लोमा कोर्स के साथ 2 विशेषज्ञता मुफ्त

व्यावसायिक अभ्यास के लिए ओरिएंटेशन कार्यक्रम

(प्रोफेशनल डिप्लोमा और इंटीग्रेटेड एडवांस प्रोफेशनल डिप्लोमा कोर्स के साथ ही उपलब्ध))

चूंकि कोई भी शिक्षा तब तक पूर्ण नहीं होती, जब तक कि छात्र एक पेशेवर के रूप में उस ज्ञान से धनोपार्जन तथा दुसरो की सहायता करने में सक्षम नहीं हो जाता |
इसी आधार पर हमने इन पाठ्यक्रमों की व्यावहारिक उपयोगिता को सुनिश्चित करने की कोशिश व्यावसायिक अभ्यास के लिए ओरिएंटेशन कार्यक्रम द्वारा की है |

 

जन्म पत्रिका क्या होती है ?

video thumb

कोर्स का संक्षिप्त विवरण

video thumb

ज्योतिष क्या है?

video thumb

दिन कैसे बने है

video thumb

चन्द्र पंचांग

इंस्टिट्यूट ऑफ़ वैदिक एस्ट्रोलॉजी से ज्योतिष शास्त्र सीखे - पाठ्यक्रम की विशेषताएं

learn img

PREMIUM EMAIL SUPPORT

learn img

1 FREE SPECIALISATION COURSE

learn img

FREE ORIENTATION PROGRAM FOR PROFESSIONAL PRACTICE

learn img

COMPLETE COURSE FASTER {TRACK OPTIONS}

learn img

GET A GOLD MEDAL

learn img

TRADITIONAL AND MOST COMMON SYSTEM OF LEARNING

learn img

PAY IN INSTALLMENTS

learn img

MAKE A GREAT CAREER

learn img

1600+ PAGES OF STUDY MATERIAL

learn img

AUDIO LESSONS

learn img

मॉड्यूल 1

कर्म, वैदिक ज्योतिष, ज्योतिष की वेदों में उत्पत्ति, खक्षोलशास्त्र, मुहूर्तशास्त्र, गणित, सिद्धांत, व्यवहार में प्रयोग, अयन, ऋतु, हिंदूमाह, 12 राशियां, उनके स्वरूप तथा संबंधित व्यक्तित्व। गणित एवं फलित ज्योतिष ।

learn img

मॉड्यूल 1 अ

इस मॉड्यूल में 12 राशियों को गहराई से समझाया गया है। प्रत्येक राशियों में उत्पन्न जातक का स्वभाव, व्यवहार, चरित्र, सोच इत्यादि के बारे में गहराई से अध्ययन तथा फल कथन।

learn img

मॉड्यूल 2

पंचांग - दिन, वार, करण, योग एवं नक्षत्र, मूल नक्षत्र, भाव, केंद्र, त्रिकोण, त्रिकभाव, वैज्ञानिक अध्ययन, कारक गृह, ग्रहों की उच्च, स्व, मित्र, शत्रु, नीच राशियां, उदित एवं अस्त गृह, ग्रहों की अवस्था, शुभ एवं पाप गृह, ग्रहों की दृष्टि एवं बल।

learn img

मॉड्यूल 2 अ

जन्म पत्रिका के भावो को इस मॉड्यूल में समझाया गया है। हर भाव से सम्बंधित जानकारियों की सूक्ष्म जानकारियां तथा उनकी तार्किक व्यवस्था । प्रत्येक भाव से क्या देखें के बारे में विस्तृत जानकारी।

learn img

मॉड्यूल 3

ग्रहों का जन्म पत्रिका के भावों में प्रभाव, ग्रहों की स्थिति, दृष्टि तथा उच्च, स्वराशि, मित्र, सम, शत्रु राशि तथा नीच राशि का प्रभाव। सूर्य, चंद्रमा, मंगल, बुध, गुरु, शुक्र, गुरु, शुक्र, शनि, राहु तथा केतु का विभिन्न भावों में प्रभाव।

learn img

मॉड्यूल 3 अ

प्रत्येक गृह तथा उनके कार कत्व का तार्किक विश्लेषण । प्रत्येक गृह जीवन के बहुत से आयाम को दर्शाते है तथा उन पर अपना प्रभाव डालते है, इस मॉड्यूल में गहराई से समझाया गया है।

learn img

मॉड्यूल 4

ग्रहों का राशियों में प्रभाव। एक भाव के स्वामी का दूसरे भाव में स्थित होने का प्रभाव। लग्नेश, धनेश, पराक‘मेश, सुखेश, पंचमेश, षष्टेश, सप्तमेश, अष्टमेश, भाग्येश, कार्येश, आयेश एवं व्ययेश का प्रत्येक भाव में प्रभाव।

learn img

मॉड्यूल 5

दशा पद्धति एवं सूत्र, सूर्य, चंद्रमा, मंगल, बुध, गुरु, शुक्र, शनि, राहु तथा केतु की विंशोत्तरी महादशा का प्रभाव। फल कथन करने के 34 सुनहरे नियम। ग्रहों की महादशा में विभिन्न ग्रहों की अंतर्दशाओं का फल। दशा के अनुसार फल |

learn img

मॉड्यूल 6

पत्रिका देखने के क्रम, बुनियादी नियम, ग्रहों की मजबूत स्थिति, वक्री एवं अस्त गृह, त्रिकोण गृहस्वामी के प्रभाव, 2, 3, 4, 5, 6 । कारक, अकारक एवं तटस्थ गृह।फलादेश सूत्र, नियम सावधानी, विश्लेषण, व्यवहारिक ज्ञान, मार्गदर्शन, सुझाव।

learn img

मॉड्यूल 7

लग्न एवं चंद्र कुंडली, ग्रहों के गोचर, सामान्य नियम, गोचर सिद्धांत, ग्रहों के गोचर गत फल जानने के नियम, ग्रहों का गोचर फल: सूर्य, चंद्रमा, मंगल, बुध, गुरु, शुक्र, राहू तथा केतु का प्रभाव।

learn img

मॉड्यूल 7 अ

ज्योतिष शास्त्र के विद्याथियों के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होगा क्योकि इसमें सूर्य, चन्द्रमा तथा मंगल ग्रहों का जन्म पत्रिका में प्रभाव को बहुत ही विस्तार तथा उनके तर्क के आधार पर सरलता से समझाया गया है।

learn img

मॉड्यूल 8

जन्म पत्रिका के विशेष योग, विभिन्न ग्रहों के द्वारा बनने वाले योग, राजयोग, नीच भंग राजयोग, शुभ एवं अशुभ योग व उन पर पड़ने वाले प्रभाव, योग फलादेश नियम, योगो को भंग होने के नियम।

learn img

मॉड्यूल 8 अ

ज्योतिष शास्त्र के विद्याथियों के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होगा क्योकि इसमें बुध, गुरु तथा शुक्र ग्रहों का जन्म पत्रिका में प्रभाव को बहुत ही विस्तार तथा उनके तर्क के आधार पर सरलता से समझाया गया है।

learn img

मॉड्यूल 9

नक्षत्र: 27 नक्षत्रों के फल, नक्षत्र व स्वामी गृह, देवता, देव आराधना, रत्न व उपरत्न धारण, भाग्योउदय, कुल 108 विभिन्न योग।

learn img

मॉड्यूल 9 अ

ज्योतिष शास्त्र के विद्याथियों के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होगा क्योकि इसमें शनि, राहु तथा केतु ग्रहों का जन्म पत्रिका में प्रभाव को बहुत ही विस्तार तथा उनके तर्क के आधार पर सरलता से समझाया गया है।

learn img

मॉड्यूल 10

कालसर्प: उदित एवं अनुदित गोलार्ध, मांगलिक दोष, साढ़े साती, पितृदोष, भूमि दोष, देविक दोष, सूर्य गृहण तथा चंद्र गृहण दोष, गुण, नाड़ी, योनि, भुकुट, वर्ण एवं वश्य दोष। गृह जनित दोष व दुष्प्रभाव, दोष जनित पीड़ा, मूल दोष, ज्वालामुखी नक्षत्र दोष, श्राप।

learn img

मॉड्यूल 11

प्रत्येक गृह के उपाय, मंत्र, स्त्रोत, विनियोग, ध्यान, कवच, यंत्र, व‘त, उपवास, पूजा, औषधि स्नान, रत्न, उपरत्न, दान, दान करने के तरीके, प्रत्येक भाव के समाधान। कालसर्प, मांगलिक योग, अमावस्य जन्म, कुटुंब शांति, वैदिक उपचार, गृह शांति।

learn img

मॉड्यूल 12

महान हस्तियों तथा व्यक्तियों के जन्म पत्रिकाओं का अध्ययन जैसे सचिन तेंदुलकर, आमिर खान, धीरूभाई अंबानी, इत्यादि। पत्रिका का प्रयोगिक अध्ययन तथा प्रोजेक्ट।

learn img

मॉड्यूल 13

नव गृह, विशेष प्रभाव, स्थान, प्रभाव, ग्रहों के दुष्प्रभाव, दीप्तांश, विभिन्न मैत्री सम्बन्ध- तत्कालीन, प्राकृतिक, पंचधा; छह शक्तियां, गृह अवस्था और चेष्टाएँ, 27 किरदार, उत्पादक गृह

learn img

मॉड्यूल 14

पंचांग, लग्न ढूंढ़ना( सरल तरीके से), गृहस्पष्ठ, जन्म पत्रिका बनाना, उपाधियाँ, समय व्यवस्था, दैनिक पंचांग परिकलन, हानिकारक प्रभाव- पहले, दूसरे, तीसरे गृह में, राशियाँ, लग्न, नक्षत्र; शमन

learn img

मॉड्यूल 15

दशवर्ग पत्रिका - भाग-1 : वर्गोत्तम गृह और लग्न, जन्म पत्रिका - निर्माण व प्रभाव, द्रेष्काण पत्रिका- निर्माण व प्रभाव; नवमांश पत्रिका-निर्माण व प्रभाव; दशमांश पत्रिका- निर्माण व प्रभाव; सप्तांश पत्रिका निर्माण व प्रभाव

learn img

मॉड्यूल 16

दशवर्ग पत्रिका - भाग-2 : द्वादशांश पत्रिका - निर्माण व प्रभाव; त्रिशांश पत्रिका-निर्माण व प्रभाव ; कालांश पत्रिका - निर्माण व प्रभाव; षोड़शांंश पत्रिका-निर्माण व प्रभाव; षोड़शांश पत्रिका-निर्माण व प्रभाव

learn img

मॉड्यूल 17

लग्न भाव- व्यक्तित्व, लग्न से संबंधित योग लग्न के स्वामी की ताकत। द्वितीय भाव- समृद्धि और कमजोर योग, दिवाला, ससुराल पक्ष से संपत्ति, परिवार, धन | तृतीय भाव- भाई बहन, उनसे परस्पर संबंध, भाई-बहन से सुख

learn img

मॉड्यूल 18

चतुर्थ भाव- माता, माता से संबंध, वाहन सुख, प्रसन्नता, भवन, भवन में वास्तु दोष. कृषि जमीन, पंचम भाव- संतान योग, गर्भपात, विलंब संतान, संतानों से सुख, श्राप योग, । षष्ठ भाव- रोग, शत्रु, विजय/हार, शत्रु से डर, छुपा हुआ शत्रु, कर्ज़।

learn img

मॉड्यूल 19

सप्तम भाव- विवाह, तलाक, वैवाहिक सुख, विधवा योग, जीवनसाथी की खूबियां, विवाह में अड़चन, साझेदारी | अष्ठम भाव- उम्र, मृत्यु का कारण, छुपा खजाना | नवम भाव- किस्मत, भाग्य, भाग्योदय की आयु, तीर्थ यात्रा, धार्मिक रूचि |

learn img

मॉड्यूल 20

दशम भाव- नौकरी, व्यवसाय, कारोबार, कामयाबी, प्रशासनिक नौकरी, राजयोग, पैसों का लेनदेन, संबंध, पिता से संबंध | ग्यारहवाँ भाव - तरक्की, कमाई, धन योग, निर्धन योग, कमाई का जरिया-स़फेद/काला | बारवां भाव- नुकसान, दान कार्य, आयकर, विदेश यात्रा |

learn img

मॉड्यूल 21

मानव की उम्र, संतान रोग, रोग संबंधी योग, कम, मध्यम व लंबी आयु, मृत्यु के दिशा, मृत्यु का कारण- स्वयं का देश, विदेश, आकस्मिक, मृत्यु का कारण | मोक्ष, पूर्व और भविष्य जन्म

learn img

मॉड्यूल 22

प्रश्न कुंडली, जन्मपत्रिका के सवाल बनाना, चोरी संबंधित सवाल, यात्रा व रोग संबंधी सवाल, विजय/हार | लाल किताब, कर्ज़, पिता, माता, भाई, पत्नी, अपना, बहन, जन्म से क्रूरता, गृह पंचायत

learn img

मॉड्यूल 23

विवाह से पूर्व लड़का लड़की की जन्म पत्रिका मिलान, मांगलिक योग, मैत्री, नाड़ी-गण-योनि, मंगल दोष द्विदशक, नवम-पंचम, योग उपचारात्मक उपाय, नव गृह- शांति स्थापन, व्यवसाय में सुधार, करियर, आर्थिक विकास, दोष के शांति के अनुष्ठान।

learn img

मॉड्यूल 24

वृत्त का अध्ययन- शक्तिशाली उपचारात्मक उपाय

learn img

अध्याय 1

ज्योतिष का परिचय (१४ विडिओ पाठ)

learn img

अध्याय 2

जन्म पत्रिका और उसके विभिन भाव (१६ विडिओ पाठ)

learn img

अध्याय 3

९ गृह (२६ विडिओ पाठ)

learn img

अध्याय 4

ज्योतिष की राशियाँ (२० विडिओ पाठ)

learn img

अध्याय 5

१२ भावो में सूर्य के प्रभाव (१२ विडिओ पाठ)

learn img

अध्याय 6

१२ भावो में चंद्र के प्रभाव (१२ विडिओ पाठ)

learn img

अध्याय 7

१२ भावो में मंगल के प्रभाव (१२ विडिओ पाठ)

learn img

अध्याय 8

१२ भावो में बुध के प्रभाव (१२ विडिओ पाठ)

learn img

अध्याय 9

१२ भावो में बृहस्पति के प्रभाव (१२ विडिओ पाठ)

learn img

अध्याय 10

१२ भावो में शुक्र के प्रभाव (१२ विडिओ पाठ)

learn img

अध्याय 11

१२ भावो में शनि के प्रभाव (१२ विडिओ पाठ)

learn img

अध्याय 12

१२ भावो में राहु के प्रभाव (१२ विडिओ पाठ)

learn img

अध्याय 13

१२ भावो में केतु के प्रभाव (१२ विडिओ पाठ)

learn img

अध्याय 14

१२ राशियों में सूर्य के प्रभाव (१२ विडिओ पाठ)

learn img

अध्याय 15

१२ राशियों में चंद्र के प्रभाव (१२ विडिओ पाठ)

learn img

अध्याय 16

१२ राशियों में मंगल के प्रभाव (१२ विडिओ पाठ)

learn img

अध्याय 17

१२ राशियों में बुध के प्रभाव (१२ विडिओ पाठ)

learn img

अध्याय 18

१२ राशियों में बृहस्पति के प्रभाव (१२ विडिओ पाठ

learn img

अध्याय 19

१२ राशियों में शुक्र के प्रभाव (१२ विडिओ पाठ)

learn img

अध्याय 20

१२ राशियों में शनि के प्रभाव (१२ विडिओ पाठ)

learn img

अध्याय 21

१२ राशियों में राहु के प्रभाव (१२ विडिओ पाठ)

learn img

अध्याय 22

१२ राशियों में केतु के प्रभाव (१२ विडिओ पाठ)

learn img

अध्याय 23

दशा पद्धति (१० विडिओ पाठ)

learn img

अध्याय 24

सूर्य की महादशा और ९ ग्रहो की अंतर्दशा (९ विडिओ पाठ

learn img

अध्याय 25

चंद्र की महादशा और ९ ग्रहो की अंतर्दशा (९ विडिओ पाठ)

learn img

अध्याय 26

मंगल की महादशा और ९ ग्रहो की अंतर्दशा (९ विडिओ पाठ)

learn img

अध्याय 27

राहु की महादशा और ९ ग्रहो की अंतर्दशा (९ विडिओ पाठ)

learn img

अध्याय 28

बृहस्पति की महादशा और ९ ग्रहो की अंतर्दशा (९ विडिओ पाठ)

learn img

अध्याय 29

शनि की महादशा और ९ ग्रहो की अंतर्दशा (९ विडिओ पाठ)

learn img

अध्याय 30

बुध की महादशा और ९ ग्रहो की अंतर्दशा (९ विडिओ पाठ)

learn img

अध्याय 31

केतु की महादशा और ९ ग्रहो की अंतर्दशा (९ विडिओ पाठ)

learn img

अध्याय 32

शुक्र की महादशा और ९ ग्रहो की अंतर्दशा (९ विडिओ पाठ)

learn img

अध्याय 33

जन्म पत्रिका कैसे पढ़े (४ विडिओ पाठ)

learn img

अध्याय 34

वृत का अध्ययन और प्रायोगिक (७ विडिओ पाठ)

कोर्स चयन करे

ज्योतिष शास्त्र में डिप्लोमा कोर्स – मॉड्यूल १ से ६ (१अ-२अ-३अ भी सम्मिलित)

ज्योतिष शास्त्र में प्रोफेशनल डिप्लोमा कोर्स – मॉड्यूल १ से १२ (१अ-२अ-३अ-७अ-८अ-९अ भी सम्मिलित) + १ विशिष्ट कोर्स (Specialisation) + ओरिएंटेशन प्रोग्राम

वैदिक ज्योतिष शास्त्र में इंटीग्रेटेड एडवांस प्रोफेशनल डिप्लोमा कोर्स – मॉड्यूल १ से २४ (१अ-२अ-३अ-७अ-८अ-९अ भी सम्मिलित) + २ विशिष्ट कोर्स (Specialisation) + ओरिएंटेशन प्रोग्राम

सफलता की कहानियां

भारत और 48 देशों में हमारे विद्यार्थियों ने इस योग्यता को प्राप्त करके इसका उपयोग पूर्ण या पार्ट टाइम कैरियर के रूप में या शौक के रूप में कर रहे हैं।

testimonial

Smt. Simmi Ladia

मैं नि: संकोच यह कहना चाहूंगी कि IVA हर द़ृष्टि से एक आदर्श संस्थान है जिसमें छात्रों की कठिनाइयों का त्वरित हल किया जाता है। पाठ्यक्रम का अध्ययन कर मैं अंक शास्त्र को पार्ट टाईम के रूप में उपयोग कर धन एवं प्रतिष्ठा प्राप्त कर रही हूँ अब मैं हस्त रेखा शास्त्र का कोर्स संस्थान से कर रही हूँ और आशा करती हूँ कि यह मेरे कैरियर में चार चाँद लगा देगा।.

testimonial

Ranbir Kaur Baidwan

Excellent courses. Excellent people. Excellent support. Gr8 learning experience. God Bless.

testimonial

Piyush Chirania

मैंने IVA से ज्योतिष में पोष्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा की उपाधी प्राप्त की है। एक वर्ष कैसे बीत गया पता ही नहीं चला। पहले माड्यूल से ही दूसरे की प्रतिक्षा रहती थी। इसी संस्थान ने मुझे इस योग्य बना दिया है कि मैं अर्जित ज्ञान का सदुपयोग करते हुए शनै-शनै इस क्षेत्र में पेशेवर की तरह कार्य करने लगा हूँ।

testimonial

N. Pramod Kumar

The astrology course was very informative and the practical, case studies and examples were well supported and taught in simplified user & friendly language. Staff were helpful. IVA definitely deserves ISO certification for its commitment to quality. I wish IVA the God speed

testimonial

Hemant Sharma

मैंने वास्तु शास्त्र पर कई किताबों का अध्ययन कर के अपने बंगले का निर्माण करवाया। किन्तु कई वर्ष बाद अपने मित्र की सलाह में मैंने प्ट। के वास्तु पाठ्यक्रम में प्रवेश लिया। कोर्स के दौरान मैंने पाया की मेरा ज्ञान अधूरा था जिसके कारण मेरे बंगले में अनेकों वास्तु दोष उत्पन्न हो गये थे। माड्यूल 11 एवं 12 द्वारा मैंने इनके समाधान को समझा व बिना तोड़-फोड़ के उसे सही करना भी जाना।

testimonial

Dr. Smriti Chourasia

It gives me immense pleasure to inform that I was thoroughly satisfied by the useful knowledge extended to me by your course. Needless to add that after completion of the course I am full of self confidence in my abilities. Best regards.

testimonial

CA Ashwin Sethi

I did Vedic Vaastu and Numerlogy courses as a part time hobby. These course have given me a new way to my life. I have got good guidance and support that was unimaginable le. Whoever can learn these courses even has a hobby will have great impact on intellect and lifestyles. Thanks IVA team.

testimonial

Heeral Chhelavda

The course is very exhaustive and nicely explained. I faced some problems in understanding few concepts which was solved by IVA experts immediately. Now I am gaining confidence in the subject. Would like to join Tarot Reading after completing this. Thanks IVA.

testimonial

Er. Sunil Kumar

I am an Engineer and self-employed professional. Learning Vedic Vastu Shastra from IVA had greatly helped me in my professional career. I recommend this course to all people related to construction. People who have Vastu related problem in their properties will also surely benefit from this.

आज अध्ययन
कल सफलता

btn

FAQs

How do I learn astrology from scratch?

Anyone who is interested in learning Astrology can learn the subject from scratch. Institute of Vedic Astrology is widely trusted destination for astrology beginners. With hand-made sketches and relevant illustrations anyone can understand the Astrology principles without much effort. You can learn horoscope reading as well as learn horoscope matching through the astrology videos and vedic astrology books created by experts at the Institute of Vedic Astrology (IVA), Indore.

Where can one learn astrology through correspondence?

Institute of Vedic Astrology Indore (IVA) is the premier and best ranked institute that provides high-quality material in Astrology through correspondence courses. The principles of Astrology are covered comprehensively by easy-to-understand language and are divided into 18 modules to ensure the comfort of reader. The material consists of more than 1600 pages of Astrology principles with relevant illustrations and real-life examples that help in easily understanding the astrology principles.

Which is the best book for learning astrology?

There are a range of books on Astrology available in the market, but books will only provide you with raw information. However, a systematic expert-designed course will ensure that you become an expert in the subject. Institute of Vedic Astrology prepares the course content under the supervision of experts that uses innovative teaching methodologies. You won’t get these advantages by reading the books bought from the market. IVA provides 12 Modules in the form of books along with Orientation Program and Specialisation. Thus, you get 14 best astrology books in our 1 Year Professional Diploma Course.

Which books are the best and must for beginners of astrology?

Anyone interested in learning Astrology can learn the subject by reading the best astrology books written by experts at Institute of Vedic Astrology. IVA is the most widely trusted destination for astrology beginners. With hand-made sketches and practical examples, the astrology books of IVA will help you master Astrology concepts without much effort. You can learn horoscope reading as well as learn horoscope matching by reading the best vedic astrology books written by experts at the Institute of Vedic Astrology (IVA), Indore. IVA’s Distance learning course in vedic astrology specifically designed for helping the beginners to become experts in the subject.

From which institute can I learn astrology, and which book is the best for learning astrology?

Institute of Vedic Astrology is the finest destination for enthusiasts in the subject of Astrology. Anyone interested in learning Astrology can learn the subject by reading the best astrology books written by IVA experts. The books you get when you join Distance learning course in vedic astrology at IVA are specifically designed for helping the beginners to become experts.

Which book should I read to understand the basics of astrology?

There are different kinds of books on Astrology available in the market, but books will only provide you with unorganized content. However, a systematic expert-designed course will ensure that you become an expert in the subject. Institute of Vedic Astrology prepares the course content under the supervision of experts that uses innovative teaching methodologies. You won’t get these advantages by reading the books bought from the market. IVA provides premium email support to answer the queries of students within 24 hours of emailing the question.